Sep 29, 2018

भुत देखने वाले को 1000 रूपये योगेन्द्र धिरहे की तरफ से इनाम !

भुत देखने वाले को 1000 रूपये योगेन्द्र धिरहे की तरफ से इनाम !

आज के समय में ऐसे बहुत सारे लोग है, जो भुत देखने का दावा करते है और अंधविश्वास को फैलाते है,
पर इसकी वास्तविकता को जानने की कोशिश नहीं करते,
तो मैंने सोचा की क्यों न इसकी वास्तविकता को जाना जाए |
और मैंने 1000 रूपये का इनाम रख दिया की कोई तो ऐसा व्यक्ति मिले जो भुत देखने का दावा करता हो, आज के समय में ऐसे बहुत सारे लोग है, जो भुत के शब्द के नाम से कापने लगते है, पर क्यों ?
आज इसी के बारे में चर्चा करेंगे, आपने ऐसे बहुत सारे विडियो देखे होंगे, जो भुत पकड़ने का दावा करते है,
इसकी सच्चाई यह है, यह एक मानसिक अवस्था होती है, जिसमे नकारात्मक उर्जा अपने दिमाग में हावी हो जाती है, और दिमाग काम नहीं करता है,
यह कोई पागलपन नहीं है |
बल्कि एक भ्रम है |
इस भ्रम को वास्तविकता में पहुच कर तर्क बुध्धि से दूर किया जा सकता है |
जैसे :- अगर कोई मेरे पास इनाम लेने आये तो मै उनसे कुछ प्रशन पूछूँगा जैसे की भुत देखने वाले को 1000 रूपये योगेन्द्र धिरहे की तरफ से इनाम !

प्रशन :- आपने भुत देखा है ?
उत्तर :- हाँ में |
प्रशन :- कहाँ देखा है ?
उत्तर :- कोई जगह का नाम बताएगा |
प्रशन :- कितना बड़ा था ?
उत्तर :- बहुत बड़ा था, या जो भी आकर बताएगा |
प्रशन :- किस रंग का था ?
उत्तर :- जो भी रंग रूप आकर बताये |
प्रशन :- क्या उसके आँख कान मुह शरीर था ?
उत्तर :- यह सब था, या जो भी |
प्रशन :- भुत किस चीज का बना था, हमारे जैसे मास या मिटटी या पत्थर से ?
उत्तर :- भुत इन चीजो से नहीं बना था, या कुछ पता नहीं, और अंतिम में जवाब हर किसी का यही आता है की भुत हवा या धुंध का बना था |
प्रशन :- क्या आप हवा को देख सकते है ?
उत्तर :- नहीं |
प्रशन :- भुत से आपने बात की, कुछ बोला, कुछ कहाँ,या नहीं या खाली खड़ा था, या कुछ कर रहा था |
उत्तर :- बोला कुछ कुछ, या नहीं भी बोला होगा |
प्रशन :- हवा कैसे बोल सकता है ?
उत्तर:- मुह से, या नहीं भी बोला होगा |

अंतिम तर्क बुध्धि :- जो लोग भुत देखने का दावा करते है, वह सभी भ्रम और डर के शिकार लोग है, हवा को कोई देख नहीं सकता तो, भुत हवा से कैसे बनेगा |
ये भुत सिर्फ डराने के लिए होता है |
पर भी लोग आज किसी को जोर-जोर से चिल्लाते, या अलग व्यव्हार करते देखने है | इसका समाधान यह है |
यह सभी उर्जा का खेल है, उसमे नकारात्मक उर्जा सोच हावी हो गई है |
यह हावी पन दिमाग की डर की, मानसिक अवस्था होती है
आप अपने की पॉजिटिव उर्जा को उस ट्रान्सफर करके उसे ठीक कर सकते है |
इस विधि को लिखकर नहीं समझाया जा सकता |
आप मुझसे फेसबुक में जुड़े,
अगर अभी भी कोई इनाम जितना चाहता है तो इन प्रशनो का उत्तर पहले देवे |
और तर्क बुध्धि लोगो से जुड़ने के लिए ,
फेसबुक से जुड़े
www.facebook.com/YogendraKDhirhe
और लोगो तक जरुर शेयर करें
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: