Apr 25, 2018

मनुवादियों को किससे डर लगता है ? दलित को जानना जरूरी है |

Manuwadi Log Kisse Darte Hai
मनुवादियों को उन हजार लोगो से डर नहीं जो घर में सोए हुए है, बल्कि उस एक व्यक्ति से डर लगता है, जो जाग कर इन लोगो की पहरेदारी कर रहा है |
( जागो और शिक्षित होकर समाज की सेवा करो, यही हमारा धर्म है )

मनुवादियों को उन पढ़े लिखे लोगो से डर नहीं जो, गुम रहे है, बल्कि उस एक शिक्षित व्यक्ति से डर है जो कड़ा भाषण देने की तैयारी कर रहा है |
( ईधर उधर फालतू घुमने से अच्छा है, बाबा साहेब की किताबे पढ़ा करो )

मनुवादियों को उस गाँव से डर नहीं जो घर पर रहते है, बल्कि उस गाँव से डर लगता है जो संगठित होकर रहते है |
( पुरे गाँव में दलित होना बड़ी बात नहीं, बड़ी बात एक मिलकर रहना है )

मनुवादियों को उस दलित अमीर से डर नहीं जो घर सम्पति पाकर आलिशान से घर पर रहते है, बल्कि उस दलित अमीर से डर लगता है, जो समाज को एकत्र करने के लिए अपने धन नौछावर करता रहता है |
( अपने धन को किसी पार्टी नहीं, समाज को एकत्र करने में लगाओ )

मनुवादियों को उस समाज से डर नहीं जो राम-राम हरे-हरे मोक्ष के पीछे भागते रहते है, बल्कि उस समाज से डर लगता है, जो जय भीम- जय भीम कहते हुए संविधान की शिक्षा को उजागर करते रहते है |
( दलितों का एक ही ग्रन्थ है, संविधान )

मनुवादियो को उस दलित गुरुजी से डर नहीं जो स्कूल में रोजाना पढ़ाने जाता है, बल्कि उस गुरुजी से डर लगता है जो शिक्षित होने का सही अर्थ बताता है |
( शिक्षित बनाओ, नहीं तो व्यर्थ है तुम्हारा गुरुजी होना )

मनुवादियों को उस व्यक्ति से डर नहीं जो जिन्दा है, बल्कि उस व्यक्ति से डर लगता है, जो जाग रहा है  |
( जागो )

मनुवादियों को आज के समय के व्यक्ति से डर नहीं, बल्कि उस व्यक्ति से डर लगता है, जो अपने इतिहास जो जानता है |
( अपने इतिहास को जानो, बाबा साहेब आंबेडकर की सारी किताब पढो )

मनुवादियों को उस दलित विधायक और सांसद से डर नहीं जो नेता बने, दुम हिलाते फिरते है, बल्कि उस दलित जिग्नेश मेवाड़ी से डर लगता है, जो शेर की तरह दहाड़ता है |
( नेता हो तो ऐसा )

मनुवादियों को उस व्यक्ति से डर नहीं जो कर्म कांड, रिवाज करता रहता है, बल्कि उस व्यक्ति से डर लगता है, जो विज्ञानिक तरीके से कर्म कांड के ऊपर विज्ञान रखता है |
( ठोंगी मत बनो विज्ञान अपनाओ )

मनुवादियों को उस दलित नौकरी पद पर बैठे अधिकारी से डर नहीं, बल्कि उस दलित अधिकारी से डर लगता है, जो मनुवादियों के झांसे में न आकर कड़ी कार्यवाही करता है |
( इनके झांसे में न फसो )

मनुवादियों को उस फेसबुक चलाने वाले से डर नहीं लगता, बल्कि उस फेसबुक चलाने वाले से डर लगता है, जो फालतू के चक्कर में न पड़कर अपनी आवाज को लिखने में लगे रहते है |
( अपनी विचार को उजागर करो लेख लिखो )

मनुवादियों को उस आंबेडकर वादी ग्रुप या संगठन से डर नहीं लगता जो एक साथ जुड़ कर नकली पोस्ट और इमेज में कमेंट करते रहते है, बल्कि उस ग्रुप से डर लगता है, जो दलितों को एकत्र करने के साथ आंबेडकर के पुस्तक और संविधान के पड़ने के लिए प्रेरित करता रहता है |
( ग्रुप में पुस्तको के बारे में बताये, संविधान की जानकारी दे )

मनुवादियों को उस दलित परिवार से डर नहीं लगता जो घर पर रामायण और गीता, हवन का पाठ करवाते रहते है, बल्कि उस दलित परिवार से डर लगता है, जो अपने बच्चों को इस कर्म कांड ठोंग की असलियत बताते रहते है |
( अपने बच्चों को ठोंग से बचाओ, नहीं तो तुम्हे मुर्ख बनाने का श्रेय देंगे )

मनुवादियों को उस दलित पढ़े लिखे युवाओ, युवतियों से डर नहीं लगता, बल्कि उस दलित युवाओ, युवतियों से डर लगता है, जो अपने समाज के उद्धार के लिए शिक्षित होने के लिए पढाई कर रहे है |
( समाज के लिए पढाई करो )

मनुवादियो को उस समाज से और व्यक्ति से डर नहीं लगता, जो काल्पनिक भगवान और पत्थर पर सिर नवाते है, और उनकी गुणगान रामायण पाठ करवाते रहते है, बल्कि उस समाज से और व्यक्ति से डर लगता है, जो इस काल्पनिक भगवान और पत्थर की पूजा और ढोंग को सबको बताते रहते है  |
( इस ठोंग के बारे में बताओ )

परमात्मा फिल्म दिखाओ मिथुन का

मनुवादियों को उस दलित टी .वी . के सामने रोजाना क्रिकेट देखने वालो से डर नहीं लगता, बल्कि उस दलित व्यक्ति से डर लगता है जो क्रिकेट ना देखकर अपने ग्रुप के साथ समाज में अंधविश्वास को मिटाने लिए एकत्र होता है |
( कभी सामाजिक बुराई के बारे में भी तो चर्चा कर लो )

क्या आप भी इन मनुवादियों के चक्कर में फसे है, तो निकल जाओ, तुम्हारे साथ समाज की भी दुर्गति हो रही है |
और इस लेख को सभी के साथ वाट्स एप्प और facebook में लिंक को शेयर करें, और समाज के लिए अपना थोड़ा सा योगदान दे,
मनुवादियों को उन मोबाइल, और इन्टरनेट, चलाने वालो से डर नहीं लगता जो  अंधविश्वास को जानने में, सही जानकारी को जानने में समझने में , लगे रहते है, बल्कि उस व्यक्ति से डर लगता है, जो अपने साथ पुरे समाज को अपने दोस्तों के साथ facebook wahtsapp में जानकारी को शेयर करने में लगे रहते है |
एक काम करो शेयर करो |
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: