Feb 10, 2018

महात्मा गाँधी रास्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में आपका मजदूरी नहीं मिला तो इस तरह पाए पैसे |

अब लोगों को अपनी सोच को भी बदलने का समय आ गया है, अब कहने से नहीं होगा, की ऊपर वाला देख रहा है, ओ सूरज देख रखा है, ओ चाँद देख रहा है, ये अग्नि साक्ष है, ये सभी एक बच्चे को रोते हुए से मनाने के लिए अच्छी लगती है, मगर किसी समजदार को अपनी हक़ की लड़ाई से लड़ने के समय ऐसा नहीं कहना चाहिए |
मुझे दुःख होता है, जब मै रोजगार गारंटी योजना में मजदूरी का मुआयना करने के लिए जाता हूँ, और मजदुर
फिर दुसरे पल कहते है, ऊपर वाला देख रहा है, ओ सूरज देख रहा है, ओ हिसाब करेगा, और उस व्यक्ति को कोसने लगते है, जिसने उसके पैसे खाए, और कोसते हुए उस व्यक्ति के बनाये घर और नुकसान पर खुशी जाहिर करते और दुखी होते है |
दिक्कत यह नहीं है, दिक्कत तो यह है, मेरे अनुसार अपने हक़ को लेना अपना अधिकार होता है, फिर यह लोग अपने हक़ की कमाई को कैसे लूटा देते है,
मेरे अनुसार से इसका उत्तर देना चाहूँगा की, असमझदारी ही इसका कारण है, ग्राम पंचायत से अपने कमाई का हिसाब न मांगना, और हिसाब नहीं मिलने पर शिकायत न करना |
समस्या तो यही पर आती है, लोग शिकायत के नाम से मन में अलग धारणा बना कर रहते है,
कोट कचहरी के और थाना के चक्कर में न पड़ना,
चाहे नुकसान हो, रोते रोते सह लेना |
सच तो यह है ऐसा कुछ नहीं होता है,
शिकायत करें तो करे किस्से और कैसे,
आप पैसे की शिकायत जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी या प्रोग्रामर (पीओ) या कलेक्टर से सीधे या, जिला पंचायत मुख्य अधिकारी से कर सकते है,
आप यह कलम से लिखित या कंप्यूटर से टाइप करवा सकते है, काम कब से कब तक कितने दिन, कौन कौन मिलकर, कार्य का नाम और हो सके तो कार्य स्थल में बोर्ड बना होता है, उसका फोटो खीचकर शिकायत करें | और अपना जॉब कार्ड फोटो कॉपी,
अगर रोजगार गारंटी योजना से सम्बंधित कोई समस्या है, या आपका पैसा नहीं मिला तो नीचे कमेंट करे, आपकी समस्या को हल करने का प्रयास पूरा किया जायेगा |
           संपादक
इन हिन्दी इंडिया न्यूज़
कहते है, मैंने पीछे कई सालो के मजदूरी भुगतान नहीं मिला है,
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: