Feb 10, 2018

मालखरौदा में नए ग्राम रोजगार सहायको की ट्रेनिंग बांकी, दिक्कत हो रही रोजगार सहायको को


Gram Rojgar Sahayak
मालखरौदा जनपद पंचायत के अंतर्गत कुल 76 ग्राम पंचायत आते है, फ़रवरी 2017 में 27 ग्राम पंचायत के लिए ग्राम रोजगार सहायक की भर्ती की गई है, फ़रवरी 2017 के और बहुत सारे ग्राम पंचायत में ग्राम रोजगार सहायक की भर्ती की गई है, अब साल हो गए है,
रोजगार गारंटी के अंतर्गत कार्य करवाने का दायित्व ग्राम पंचायत को सौपा जाता है, ग्राम पंचायत में सरपंच, सचिव, पंच, और ग्राम रोजगार सहायक होते है, जो ग्राम पंचायत और रोजगार के कार्यो को देखते है,
भारत और राज्य सरकार में सबसे बड़ा कार्य रोजगार गारंटी का होता है, और रोजगार के कार्यो को सुचारू रूप से चलाने का दायित्व सरपंच, सचिव और खास करके ग्राम रोजगार सहायक का होता है,
रोजगार गारंटी के अंतर्गत उन्ही कार्यो को कराया जाता है जो रोजगार मूलक हो, जिससे लोगो को रोजगार मिल सके |
इन कार्यो के अंतर्गत सड़क निर्माण, नाली, तालाब, कुंवा, डबरी, जलाशय, और बहुत सारे कार्य कराये जाते है,
किसी भी कार्य को कराने से पहले, उस कार्य की जानकारी जनपद को दी जाती है, और जनपद उस कार्य को ऊपर जिला में भेजते है,
उसके बाद उस कार्य का बजट निकाला जाता है, मटेरियल का और मजदूरी भुगतान का, जिससे कार्य कराना होता है,
मान लीजिए, डबल्यू बी एम सड़क निर्माण, जिसमे मिटटी से सड़क और सड़क के ऊपर मुरुम, बोल्डर पत्तर, और पानी, रोलर से कार्य करवाना होता है,
ग्राम पंचायत द्वारा कार्य की स्वीकृति कराई जाती है, उसके बाद ग्राम पंचायत की सभा आयोजित की जाती है, कार्य के बारे में सबको जानकारी दी जाती है,
जो मजदुर जॉब कार्ड धारी कार्य करना चाहते होते है, वह कार्य के लिए मांग करता है, इसकी सुचना मुनियादी द्वारा सभी को दी जाती है और उसका नाम मांग पत्र में ग्राम रोजगार सहायक भरता है,
और जनपद पंचायत में मांग पत्र को जमा किया जाता है, कुछ दिन बाद मांग के लोगो का लिस्ट निकला जाता है, जिसे मस्टर रोल कहते है, इसमें वही नाम होते है, जिन लोगो ने काम के लिए आवेदन दिए होते है |
मस्टर रोल में उन लोगो का मजदूरी भरा जाता है, जो लोग काम करते है,
इन सभी कार्यो को ग्राम रोजगार सहायक के द्वारा किया जाता है,
कार्य शुरु होने से पहले एक बोर्ड बनाया जाता है, फिर इंजिनियर आकर कार्य का डाकबेलिंग करवाता है, और किस तरह से कार्य होना है, इसके बारे में जानकारी देता है, और लगातार निरिक्षण करता रहता है |
Janpad Panchayat Malkharoda
मालखरौदा ब्लाक छत्तीसगढ़ का सबसे पिछड़ा हुआ, ब्लाक माना जाता है, मालखरौदा में आपको ऐसे-ऐसे ग्राम रोजगार सहायक मिल जायेंगे, जिनको गोदी (गढ्ढा ) कैसे नापना है, यह भी मालूम नहीं, मेट पंजी क्या होता है, इसकी किसी को जानकारी नहीं, डाकबेलिंग सब्द को पह्ली बार सुनते है, कार्य के दौरान मजदूरों का उपस्तिथि कैसे भरनी है, मस्टर रोल में मजदुर का हस्ताक्षर बीच के दिनों में या अंतिम के दिनों में भरना है इसकी भी जानकारी नहीं,  गोदी कार्य के दौरान मस्टर रोल में उपस्तिथि रोज भरना है, या गोदी नाप के बाद इसकी भी जानकारी नहीं, रोजगार गारंटी कार्य के दौरान बच्चों के लिए क्या सुविधा होती है, चोट लगने पर उपचार के लिए सुविधा कैसी हो, पीने के लिए, तथा आराम करने के लिए व्यवस्था का प्रबंध कैसे करना है, कोन कराएगा, डाकबेलिंग कैसे करनी है,
हद तो तब हो जाती है, जब गोदी का कीमत कोई बता नहीं पता, और न हाजरी का, हर ग्राम पंचायत में अलग-अलग तरीके से गोदी नापी जाती है, जिससे मजदूरो को काफी नुकसान उठाना पड़ है, कार्य के दौरान जाब कार्ड में मजदूरों का नाम और अन्य कैसे भरना है , इस तरीके से रोजगार गारंटी का हाल है,
ग्राम पंचायत का गठन इसी उद्देश्य के साथ हुआ था, लोग गलती-गलती कर करके सीखे,
जनपद पंचायत मालखरौदा को सोचना चाहिए, किसी भी ग्राम रोजगार सहायको के ऊपर किये गए शिकायतो पर,
क्या इन नए ग्राम रोजगार सहायको, को जनपद पंचायत के द्वारा किसी प्रकार की ट्रेनिंग दी गई है, अगर नहीं दी गई है तो ग्राम रोजगार सहायको के द्वारा गलती होना स्वाभाविक है, और इसमें जनपद भी दोषी माना जायेगा |
ग्राम रोजगार सहायक कम वेतन मिलने के बाद भी हर हफ्ते अपने खर्चे से मीटिंग, खुद का मोबाइल और जनपद के द्वारा दी जाने वाली जानकारी को देखने के लिए खुद का इन्टरनेट में हजारो रूपये खर्च हो जाते है |
जनपद पंचायत मालखरौदा से मांग करते है, की ग्राम रोजगार सहायको को जल्द- से जल्द रोजगार गारंटी की ट्रेनिंग दिलाने का समय निकाले, ताकि मालखरौदा का भी विकास हो, और मुख्य कार्यपालन अधिकारी से निवेदन करते है, इस लेख पर शांति से विचार करें |
धन्यवाद् ,
                            संपादक एवं विचारक
                                योगेन्द्र धिरहे
                        www.inhindiindia.in news
आप नीचे व्हाट्सएप्प se अपनों को भेज सकते है यह 
Previous Post
Next Post

post written by:

1 comment:

  1. बहुत बढ़िया तरीका ले समस्या अउ पूरा कार्य पद्धति ल ये लेख म बताय गे हे।

    ReplyDelete