Jan 11, 2018

CGPSC की तैयारी कैसे करें -PSC KI TAIYARI KAISE KARE,

chhattisgarh cgpsc ki taiyari kaise kare
प्रारम्भिक परीक्षा –
प्रथम प्रश्न पत्र – 
भाग -1
 सामान्य अध्ययन – 
इसमें आप भारत के इतिहास, भारत का स्वतंत्रा आन्दोलन, भारत का भूगोल, संविधान और राजव्यवस्था, अर्थशास्त्र, दर्शन काला और संस्कृति के साथ साथ सामान्य विज्ञान, और समसामयिक घटनाएँ. खेल कूद और पर्यावरण से सम्बंधित प्रश्नों की तैयारी कर सकते है |
भाग – 2
छत्तीसगढ़ का सामान्य ज्ञान
छत्तीसगढ़ से सम्बंधित आप, राज्य का इतिहास, स्वतंत्रता आन्दोलन में छत्तीसगढ़ का योगदान, छत्तीसगढ़ का भूगोल, छत्तीसगढ़ का जनगड़ना, छत्तीसगढ़ का पर्यटन केंद्र, कला और संस्कृति, छत्तीसगढ़ अर्थव्यवस्था, प्राकृतिक संसाधन, प्रसासनिक ढांचा, जनजातियाँ तथा समसामयिक घटनाए के प्रशन होते है |

द्रितीय प्रशन पत्र योग्यता परीक्षा
इस पत्र की तैयारी कके लिए संचार कौसल पारस्परिक कौसल, तर्क एवं विश्लेषण, क्षमता, सामान्य मानसिक योग्यता, संख्यात्मक अभिरुचि, हिन्दी एवं छत्तीसगढ़ी भाषा कका ज्ञान आदि से सम्बंधित प्रश्न होते है |
CGPSC में आवेदन कैसे करें ? उत्तर आवेदन सिर्फ ऑनलाइन ही स्वीकार किये जाते है, आप CGPSC की वेबसाइट www.psc.cg.gov.in में आवेदन कर सकते है, और इसी वेबसाइट में परीक्षा की तैयारी के लिए पठ्य्क्रम डाउनलोड कर सकते है |

परीक्षा की तैयारी –
यह पेपर कट ऑफ़ मकर्ष होगा, आप इसकी जानकारी जिला रोजगार अधिकारी से संपर्क कर सकते है, और सामान्य अध्ययन के लिए NCERT की कक्षा 6 से 10 वी तक की पुस्तके एवं उपकार प्रकाशन के अतिरिक्तांक, सामान्य विज्ञान के लिए स्पेक्ट्रम ककी प्रकाशन की पुस्तके, समसामयिक घटनाक्रम के लिए प्रतियोगिता दर्पण एवं सक्सेस मिरर, योजना एवं कुरुक्क्षेत्र पत्रिकाए एवं भारत सरकार की वेबसाइट, www.india.gov.in बहुत उपयोगी है, छत्तीसगढ़ की सामान्य ज्ञान के लिए उपकार प्रकाशन का छत्तीसगढ़ वृहद् सन्दर्भ, अरिहंत और लुसेंथ प्रकाशन की किताबे एवं SCERT रायपुर की कक्षा 3 से 8 वी तक की हिंदी एवं सामाजिक विज्ञान की किताबे बहुत उपयोगी है, छत्तीसगढ़ शासन की वेबसाइट www.cg.gov.in एवं साप्ताहिक पत्रिका रोजगार एवं नियोजन लाभदायक है,
द्रितीय प्रश्न पत्र की तैयारी के लिए,
सामान्य मानसिक योग्यता, तर्कशक्ति, संख्यात्मक अभिरुचि, आर एस अग्रवाल और अरिहंत प्रकाशन की पुस्तार्के उपयोगी है, छत्तीसगढ़ी भाषा के लिए छत्तीसगढ़ी हिंदी ग्रन्थ एकादमी की पुस्तके एवं हिंदी भाषा के लिए डॉ. हरिदेव बाहरी एवं परीक्षा मंथन की पुस्तके उपयोगी और लाभकारी है |
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: