Jun 7, 2018

Chess Titans चेस खेल की पूरी जानकारी, और चेस खेलना सीखे

चेस में एक चौकोन मैदान होता है, जिसे युद्ध का मैदान कहा जाता है,
मैदान के अन्दर में कुल मिलाकर 8 खाने लम्बाई, और 8 खाने चौड़ाई के होते है,
कुल मिलाकर चौसठ (64) खाने होते है,
जिसमे (32) काले और (32) सफ़ेद होते है |
इसमें का एक हिस्सा, एक पक्ष और दूसरा पक्ष दुसरे का होता है,

चेस खेल में अनेक योध्धा होते है,

चेस में कुल मिलकर 6 प्रकार के योध्धा होते है,

1. राजा ,

राजा एक (1) होता है,
खेल में राजा सबसे महत्वूर्ण होता है,
खेल का एक ही नियम होता है, राजा खत्म तो खेल ख़त्म,
इसलिए राजा को बचाने के लिए सभी अपनी जान को नैछावर करने के लिए तत्पर रहते है,

2. मंत्री ,

मंत्री एक (1) होता है,
खेल में एक ही मंत्री, अर्थात सलाहकार होता है,
मंत्री के बिना राजा कुछ भी नहीं, उसके पास शक्ति तो होगी लेकिन उसका उपयोग कैसे करना है, यह मंत्री ही जानता है,
राजा अपने शक्ति के नसे में चूर हो सकता है, लेकिन सलाहकार मंत्री नहीं,
उदाहरण- सुषमा स्वराज विदेश मंत्री,
जब चीन ने उत्तराखंड भारत के इलाके को अपना बता कर अधिकार करना चाहा तो,प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने बडबोला हांथी की तरह युद्ध करने की चुनौती देता आगे बढ़ रहा था,
लेकिन विदेश मंत्री ने बड़ी ही सहजता से इस समस्या का हल कर दिया |

3. ऊंट,

ऊंट दो (2) होता है,
प्राचीन ज़माने में ऊंट में बैठकर ही युद्ध किया जाता था,
ऊंट ऐसा योध्धा होता है, जो अपने लम्बे पैर की मदद से युद्ध के मैदान के अन्दर घुस सकता होता है,
लेकिन ऊंट के लिए तुरंत मुड़ना आसन नहीं होता इसलिए, वापस आने में टाइम लगता है,

4. घोडा,

घोड़ा दो (2) होता है,
घोडा इस खेल में बहुत बड़ा योध्दा होता है, वह अपने चारो ओर नज़र रखता है,
और किसी के ऊपर से छलांग लगाकर पार करना इसकी बहुत बड़ी पहचान होती है,
इस तरह से घोड़ा अपना बहुत बड़ा युध्द में अपना योगदान निभाता है,

5. हांथी,

हांथी दो (2) होता है,
हांथी को आपने देखा होगा, वह अगर चलता है, तो उसी रास्ते में चलता है, जहाँ उसे दिखाई देता है, जैसे सीधा चाल;
ठीक उसी तरह से इस खेल में भी हांथी अपना चाल चलता है,
हांथी के रास्ते में जो कोई भी आता है, उसे हांथी कुचल कर आगे बड जाता है, चाहे मंत्री हो या राजा |

6. सैनिक,

सैनिक आठ (8) होते है,
सैनिक के हाँथ में तलवार या भाला होता है, जिससे वह युद्ध करता है, इसलिए सैनिक अपने सीधे को युद्ध नहीं कर सकता, वह आगे के दाएं और बाए को ही मार कर सकता होता है,

यह हो गई चेस के योध्दा की जानकारी,
अब बात करते है,
किस तरह से मैदान में सभी, राजा, मंत्री, ऊंट, घोड़ा, हांथी, सैनिक, को लड़ने के लिए दिया जाता है,

उससे पहले इन योध्दाओ को पहचान ले,
ये सैनिक है,
ये हांथी ,
ये घोड़ा,
ये ऊंट,
ये मंत्री,
और यह राजा जी,
Chess ke Khiladi ke naam
आप चित्र में देखे किस तरह से सजाया गया है, सभी को, किस तरह से सजाया गया है,
मैदान में सबसे पहले सैनिक होता है,
और किनारे में हांथी, हांथी इसलिए क्योकि इसके नजदीक से गुजरना बहुत मुश्किल होता है,
सबसे बीच में राजा होता है, मन्त्री हमेशा राजा के बाए और बगल में होता है,
मंत्री और राजा के बगल में ऊंट होता है,
और ऊंट के बगल में घोड़ा,
chess me yodhdhha ko sajana
ये हो गया सजावट,
अब जाने इनके चलने का तरीका,
चेस खेल रेंगना, चलना, मरना, भागना, कूदना, बचना, बचाने वाला खेल है,
और यह सब खिलाडी के चलने अर्थात चाल पर निर्भर करता है,

योध्दाओ के चाल का तरीका,

तो सबसे पहले देखते है, हांथी का चाल,
हांथी का नियम- जो भी रास्ते में आए, उसे उड़ा दो |
हांथी किसी दुसरे के ऊपर से उसपार नहीं जा सकता, वह अपने सीधे, पीछे, दाए और बाए ही चाल चल सकता है | जितनारास्ता खाली हो उसमे जा सकता है,
जैसे चित्र देखे,
hanthi ka chal


सैनिक का नियम - सीधे चलो, ऊपर का दाए बाए मारो, पीछे जाना मना है, नहीं तो डटे रहो |
सैनिक पीछे नहीं फिर सकता, वह आगे ही बड सकता है, मारते समय दाए और बाए को ही मार सकता है |
लाल कलर मारने के लिए ,हरा आगे बढ़ने के लिए 
जैसे चित्र देखे,
sainik ka chal

मंत्री- आगे पीछे दाए बाए, देख ताख के, चारो दिशा में में चलू चाल मै,
चित्र देखे,
mantri ka chal


ऊंट- आगे पीछे दाए न चलू मै,
 ऊंट जितनाखाली जगह हो उतना में जा सकता है,
यह जहाँ चाल चला जाता है उसका चित्र है,

unth ki chal


घोड़ा- ढाई कदम में दौड़ लगाऊ, सबके ऊपर से गुजर जाऊ |
चित्र देखे,
ghode ki chal

राजा- आगे पीछे दाए बाए एक कदम मै चलू चाल |
चित्र देखे,
raja ki chal

घोड़े को छोड़कर कोई भी योध्धा किसी के ऊपर से नहीं गुजर सकता |
अंतिम नियम
आपसे प्रश्न- क्या मरा हुआ वापस जिन्दा हो सकता है
अगर आपका उत्तर नहीं है तो,
एक बार हाथ से उठाये गए खिलाडी को खेलना अनिवार्य है |
तो आपको यह कैसा लगा हमें जरुर बताये,
और ये लाखो लोगो द्वारा पसदं किया गया मेरा विडियो देखे,



Www.inHindiINDIA.in
लेखन कर्ता योगेन्द्र धिरहे
Previous Post
Next Post

post written by:

1 comment:

  1. बेहतरीन लेख ... तारीफ-ए-काबिल ... Share करने के लिए धन्यवाद। :)

    ReplyDelete