Apr 19, 2018

मै

Mai
अगर आपसे यह प्रश्न किया जाए, तुम कौन हो ? 
आप इसका उत्तर क्या देंगे, शायद आप अपना नाम बताएँगे | अपने निवास का पता बताएँगे | लेकिन यहाँ पर मै का अर्थ अलग है, फिर से प्रश्न किया जाता है | तुम कौन हो उत्तर आता है, मै शरीर हूँ |
यह कैसा उत्तर आता है, लेकिन यही सत्य है, क्योकि शरीर के लिए तो नाम है |
शरीर का ही तो निवास स्थान है,  अर्थात जो कुछ भी है, वह सभी शरीर का ही है |और इसी का महत्त्व है, बांकी किसी का नहीं |
मै शब्द के अनेक अर्थ निकलते है, मै शब्द अंहकार को दर्शाता है | मै शब्द अपने आप को दर्शाने के लिए प्रयोग में आता है | यहाँ पर उच्चारण में अंतर मै और मै में समझा जा सकता है | मै शब्द स्वम को इंगित करने के लिए, धीमी गति स्वर से निकले; और जो मै अपने तेज गति से स्वर से निकले वह अंहकार है | 
यहाँ पर सभी का सम्बन्ध शरीर से है, अतः शरीर क्या है, यह जानना भी चाहिये |
दुनिया की सभी चीजे शरीर के लिए है, शरीर पञ्च महाभूतो से मिलकर बना है,  अग्नि, जल, वायु, पृथ्वी और आकाश |
आँख, कान, नाक, जीभ, तव्चा, ये सभी इस सभी को संचालित करने के लिए मन बना है |
मन को संचालित करने के लिए, बुध्धि है |
और बुध्धि को संचालित करने के लिए विवेक |
और विवेक को संचालित करने के लिए आत्मा, और आत्मा जो कुछ भी करता है, वह परमात्मा में मिलने के लिए करता है |
अच्छे कर्म करे, मन को संतुष्ट रखे | मन की संतुष्टि, ही आत्मा की और परमात्मा की संतुष्टि है |

Apr 17, 2018

समाज का उद्धार करने के लिए किस प्रकार की ज्ञान प्राप्त करने की आवश्यकता होती है,
समाज का उद्धार करने के लिए किस प्रकार की ज्ञान प्राप्त करने की आवश्यकता होती है,
बात सीधी सी है, अगर कोई भी समाज के लिए कुछ करना चाहता है तो उसे सामाजिक चीजो को सीखने की जानने की ज्ञान प्राप्त करने की जरुरत है,
व्यक्ति को सबसे पहले अपने आप के बारे में जानना चाहिए,
उसके बाद परिवार के बारे में, फिर मोहल्ले के बारे में, और गाँव के बारे में और शहर के बारे में,
व्यक्ति को समाज की हर प्रकार की संस्कृति के बारे में जाननें की जरुरत है,
जैसे खान पान, रहन सहन, जीवन, विवाह क्या है, कर्म संस्कार, मंगनी, मृत्यु, छट्टी संस्कार, नाम करन संस्कार, रिवाजो के बारे,
समाज को जानने के लिए इतिहास को जानने की जरुरत है,
आपको हर प्रशन का उत्तर इतिहास में ही मिलेगा,
काल के तीन प्रकार होते है,
वर्तमान, भूतकाल, और भविष्य,
जो बीत गया है उसका परिणाम वर्तमान में हो रहा है, और वर्तमान और भुत में जो हुआ है वह भविष्य में दिखाई देगा,
जैसे आज समाज में बहुत जायदा ग़रीबी है, उसका कारन अगर जानना है तो इतिहास में ही मिलेगा,
समाज का उद्धार करने के लिए अगर सबसे जायदा किसी को जानने की जरुरत है तो वह है, स्वंम व्यक्ति की उत्पति अपनी नहीं दुनिया के उस सबसे पहले मानव को जानने की, और धर्म को जानने की, जाति को जानने की, समुदाय को जानने की, गोत्र, उपनाम को जानने की,
समाज का अगर उद्धार करना है तो आर्थिक, धार्मिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक, प्राकृतिक, वैज्ञानिक सभी प्रकार की पढाई करने की जरुरत है |
देखो समाज की आज क्या विपति आ गई है,
सभी ओर छुआ छूत व्याप्त होते जा रहा है,
कोई किसी दुसरे धर्मं में जाति में वर्ण में शादी नहीं कर रहा है, अगर इस नियम को आप नहीं बदलेंगे तो कौन बदलेगा,
गरीब और गरीब होते जा रहा है, मरने के बाद भी लोग सिर मुड़ाना नहीं भूलते है,
गरीब होने के लिए शादी में, छट्टी में, संस्कारो को बहाना काफी है,
ब्राम्हण आज मंदिरों के नाम पर सभी को लुट रहे है,
समय आ गया है अपने आस पास देखो, अपने दोस्तों के साथ अपनों के साथ चर्चा करो अपने छेत्र में क्या बुराई है |

Apr 16, 2018

भारत के हर नागरिक को यह जरुरी अधिकार जानने चाहिए
Bharat Ke Nagrik se Jude Adhikar Janne Yogya
भारत एक विकास शील देश है, मगर भारत देश में अशिक्षा बहुत ही जायदा है इसी वजह से, लोग अपने अधिकार को नहीं जान पाते, लेकिन आपको हर नागरिक के ऐसे 10 अधिकार को बताने जा रहा हूँ, जिसे जानने से बाद आप अच्छे से जीवन को जी सकते है,
देश में खुश्खोरी , लुटमारी का बोलबाला है, इसी से बचने के लिए कुछ नियम
:- भारत में लिव इन रिलेशन शीप में पूरी छुट होती है, लेकिन अगर इसी बीच कोई बच्छा होता है तो उसका सम्पति में पूरा अधिकार होता है |

:- अगर आपका किसी कारण से RTO ने चलान काट दिया है तो पुरे तारीख तक दोबारा उस गाड़ी का चलान नहीं काटा जा सकता, लेकिन आपको पहली चलान की रसीद भी दिखानी होगी |

:- अगर आप कोई दुकान में समान लेते है तो दुकानदार 50 की चीज को 60 में नहीं बेच सकता, मगर आप दुकानदार की सहमती से उसी वस्तु को 40 में अर्थात कम में खरीद सकते है |

:- अगर आपने किसी व्यक्ति को पैसे उधार दिये है और वह आपके पैसे नहीं चूका रहा तो आपके पास यह अधिकार है की कोट में आप उसकी शिकायत कर सकते है,

:- अगर किसी एरिया में कुछ होता है या अक्सिडेंट होता है तो उस एरिया का पुलिस वाला यह नहीं कह सकता की मै डूयूटी में नहीं हूँ, क्योकि पुलिस एक्ट के तहत पुलिस की समय सीमा 24 वो घंटे होती है |

:- भारतीय कानून  के अनुसार अगर किसी दम्पति का 1 बच्चा है तो वह दूसरा गोद नहीं ले सकता, अगर किसी दम्पति का कोई बच्चा नहीं है तो वह बच्चे को गोद ले सकता है लेकिन जिस बच्चे को गोद ले रहा है उसके और पिता के उम्र बीच में 21 वर्ष का अन्तर होना चाहिए |

:- अगर आपकी पत्नि आपको बार –बार गाली देती है या आपको अपने माता पिता से अलग करने के लिए मजबूर करती है तो आप इसकी शिकायत कर सकते है, और इसके आधार पर तलाक भी ले सकते है |

:- भारत देश में महिलाओ को अरेस्ट करने का अधिकार केवल महिला पुलिस को होता है, कोई भी पुरुष थानेदार महिला को अरेष्ट करके थाना नहीं ले जा सकता | अगर किसी महिला को शाम 6 बजे से लेकर सुबह के 6 बजे तक पुलिस स्टेशन आने के लिए कहा जाए तो महिला को यह अधिकार है की वह जाने से मना कर सकती है |

:- इनकम टैक्स अधिकारी हो या कर वसूल करने वाले अधिकारी हो, अगर आपने टैक्स नहीं दिया है तो TRO आपको गिरफ्तार कर सकता है, और इनकी इजाजत से ही आप छूट सकते है |

:- अगर आप सायकल और रिक्शा चलाते है तो मोटर रिकल act इस पर लागु नहीं होता |




यह रहे हर नागरिक से जुड़े कुछ अधिकार अच्छा लगा तो शेयर करें

Apr 15, 2018

हिन्दू मुश्लिम की राजनीति का सच, गुप्त बाते
hindu mushlim ki pichhe ki rajneeti
राजनीति के वैसे तो बहुत सारे प्रकार होते है, लेकिन कुछ महत्वपूर्ण राजनीति के बारे में आज जानेगे,
हर देश की अपनी समस्या होती है उसी के अनुसार राजनीति भी होती है,
यह राजनीति लोक राजनीति सरकार की राजनीति के बारे में बात कर रहा हूँ, इस राजनीति में सरकार लोगो को अपनी तरफ करने का राजनीति करते है,
तो आइये जानते है यह राजनीति कौन-कौन से है,
राजनीति छेत्र अनुसार होता है, जैसे विदेश, देश, राज्य, संभाग, लोकसभा राज्य सभा जिला, विधानसभा, इस तरह से |
इसमें सबसे बड़ी जो राजनीति होती है, वह लोकसभा, और दूसरा, राज्यसभा, और तीसरा विधानसभा होता है,
देश में सरकार मुख्यरूप से दो प्रकार की होती है
केंद्र और राज्य में,
केंद्र में लोकसभा और राज्य में विधानसभा,
राजनीति का जन्म या उदय मुद्दा से होता है |
भारत देश में केंद्र में सबसे बड़ी राजनीति जो होती है, वह धर्म की राजनीति होती है,
राजनीति करने के लिए आज के समय में पार्टी बनाना आवश्यक है,
हमारे भारत देश में अनेक प्रकार के पार्टी होते है, हर पार्टी की कुछ विचारधाराए होती है, जिसे लेकर ओ आगे बड़ते है,
देश के केंद्र में जो सबसे राजनीति होकर उभरी है वह कांग्रेस, और बीजेपी है,
कांग्रेस सभी जनता को लेकर साथ में चलती है, तो वही बीजेपी इस्पस्ट रूप से कहती है, यह भारत देश हिन्दू राष्ट्र है, मुश्लिम को यहाँ रहने नहीं देंगे,
वर्तमान समय में बीजेपी सभी हुन्दुओ को डराने का काम कर रही है, उत्तर प्रदेश में हिंसा फ़ैलाने के लिए पूरा प्रबंध कर लिया है,
राम मंदिर के नाम पर बीजेपी हिन्दू और मुश्लिम को लडाना चाहती है, और हिन्दू जब डर जायेंगे तो बीजेपी को ही बोट देंगे,
यह एक प्रकार की राजनीति है,
 बीजेपी अच्छी तरह से जानती है की हिन्दुओ को मुर्ख बनाना कितना आसान है,
और इसके दम पर सत्ता हासिल करना चाहती है,
आप इस्पस्ट जानते है की अभी की मीडिया पूरी तरह से सरकार के लिए काम कर रही है,
और लोगो को मीडिया के माध्यम से डराने धमकाने, हिंसा फ़ैलाने का, पूरा प्रबंध कर रही है
आप याद रखे कोई मुश्लिम आपको डरा नहीं रहा यह सरकार आपको डरवा रही है,
आपको इसके चंगुल में फसने की और हिन्दू मुश्लिम करने की कोई जरुरत नहीं है, इसके बहाने में सरकार आपकी बच्चों को हिंसा का पाठ और बेरोजगार बना रहा है पूछो सरकार से कहाँ है एक करोड़ रोजगार किस किस को मिला |

Apr 14, 2018

दलित किसे कहते है, किसे कहते है दलित,
Dalit Kise Kahte Hai

 दलित कौन है ?

यह कोई छोटी बात नहीं, इसे समझने के लिए दलितों की उस हजारो सालो पहले की त्रासदी को याद करना होगा, भारत देश हमेशा से वर्ण व्यवस्था का गुलाम रहा है,
एक सिक्के के जिस तरह से दो पहलु होता है,
और बीच में पहलु होती है उसे आधार कहते है, वह आधार प्रश्नवाचक चिन्ह के साथ खड़ा होता है हमेशा,
अभी जिस तरह से आप दलित शब्द के बारे में पड़ रहे, जान रहे है, लेकिन इस दलित शब्द को समझने के लिए उसके अन्दर (आधार) की परिधि में जाना ही होगा,

क्या है वर्ण व्यवस्था,

वर्ण चार प्रकार बनाये गए,
ब्राम्हण, क्षत्रिय, वैश्य, और शुद्र,
ब्राम्हण का कार्य शिक्षा देना, क्षत्रिय का कार्य सुरक्षा, वैश्य का कार्य खाने का व्यवस्था करना और सूद्र का कार्य सभी की सेवा करना,
यह कोई व्यावहारिक कार्य नहीं है,
यह जबरदस्ती का कार्य है,
जिस शुद्र को जाति वर्ण समुदाय, समाज को प्रताड़ित करने का जो काम किया गया है,
उसी को आज कालांतर में दलित वर्ग, समाज के नाम से जाना जाता है,
आप सोच कर देखो, एक मिनट के लिए जी कर देखो, यह दलित पिछले १०००० सालो से यह नियम के गुलाम है,
पीने के लिए पानी तालाब से नहीं ले सकते, ना कुए से, ना नदी से, न किसी जलाशय से,
जिसे धन रखने का आधिकार न हो,
जिसकी बहु बेटियों, बहन को यह उच्च वर्ग हमेशा से शोषण कर रहा हो,
जिस देश में कल्पना के नाम से त्रासदी इन ब्राम्हणों ने फैलाया, उस व्यवस्था का शिकार है यह दलित समाज,
दलित का अर्थ, पिडीत, शोषित, दबा हुआ, खिन्न, उदास, टुकडा, खंडित, तोडना, कुचलना, दला हुआ, पीसा हुआ, मसला हुआ, रौंदाहुआ, विनष्ट की हुआ |
अगर आपको दलित को समझना है, तो आपको सुझाव है, किसी गरीब के घर जाकर रात में खाना खा लेना और उसी दलित के घर में सो जाना |
-योगेन्द्र धिरहे

Apr 12, 2018

राजनीति क्या है ?– योगेन्द्र धिरहे
What is Politics Raajneeti Kya Hai
Politics
आज के समय में सभी राजनीति शब्द से सभी परिचित है, मगर क्या आप राजनीति को समझना नहीं चाहेंगे, राजनीति को समझने के लिए राजनीति का अर्थ और परिभाषा को समझना जरुरी है ,
जब मै कालेज का पढाई कर रहा था तो मुझे पता चला की राजनीति का अर्थ राज्य की नीति से है,
पर यह पूरी तरह से गलत है, वास्तव में राजनीति का यह गलत अर्थ है,
सही मायने में अगर देखे तो, इस प्रकार ,
किसी भी को शब्द को समझने के लिए उसका संधि विच्छेद जरुरी है, क्योकि बड़े शब्द, दो या अनेक शब्दों को जोड़कर बनाए जाते है,
राजनीति भी दो शब्दों से मिलकर बना है,
राज + नीति , यह दो शब्द अलग-अलग है,
मेरे अनुसार से राज का अर्थ (राज) करने से है, राज्य से नहीं,
यह कोई राज की बात वाली राज नहीं, राज का अर्थ अपनी दम से नीति से समझ से राज करने से है,
यह राजनीति का जो राज है, यह सिर्फ जनता वाली राजनीति के लिए नहीं बना, वास्तव में तो यह हर छेत्र में राज करने के लिए बना है, जैसे सामाजिक पारिवारिक, ऑफिस में, किसी व्यक्ति के ऊपर, किसी के सोच के ऊपर, समुदाय के ऊपर, जहाँ पर किसी पर राज किया जाता है, वह राजनीति है,
राजनीति में दूसरा शब्द, नीति, है,
नीति का अर्थ नियम से है,
राज करने का जो नियम होता है, उसे नीति कहते है,
नीति का वास्तविक अर्थ नियम से है,
नीति सिर्फ राजनीति के छेत्र में उपयोग किया जाने वाला शब्द नहीं है,
जहाँ पर नियम है वहां पर नीति है,
वर्तमान समय में कुछ विशेष प्रकार की राजनीति देखने को मिल रही है,
राज शब्द का अर्थ विस्तृत है, यह बड़ी नहीं, बड़ी बात तो यह है, की,
राज जिस नीति के माध्यम से किया जाता है, वह नियम क्या है,
राज करने के कुछ नियम :-
लोगो को लगे की सरकार गरीब से गरीब जनता के लिए काम कर रही है,
आज फ्री में जनधन योजना कहकर सरकार, सरकार शुरु की और सरकार बनते ही , नियम कर दिया 2000 रूपये से कम होने पर हजारो काटे जायेंगे |
गरीब के पास खाने को दाना नहीं और जबरदस्ती पैसे डलवाए जा रहे है,
फुट डालो और राज करो – ST/ SC का atrocity act ख़त्म कर दो, और OBC को लगे की इनके लिए काम किया है, पर वास्तव में तो OBC को चम्चा बनाना है |
सबको बेउकुफ़ बनाओ,
आजकल सरकार गोदी की मीडिया के माध्यम से सबको बहलाने में भटकने में, असल मुददे को छुपाने में लगी है,
तो आप नीति का अर्थ और राजनीति का वास्तविक अर्थ समझ गए होंगे,
अगर आपको यह अच्छा लगा तो facebook और whatsapp में जरुर शेयर करें |
धन्यवाद  

Apr 11, 2018

Jiofi Hotspot Ka Wifi Name Aur Password Change Kare, aur Trick Bhi Jane,
Jio Fi Name And Password Badalna Sikhe
Jio ne Kuchh Sal Pahe JioFi Hotspot Lonch Kiya Hai,
Jo Lag bhag 100gram ka Hota hai, Uske andar me badi si 2600mz ka Baitry or ek Minisim Lagta Hai Jio Ka,
Is Hotspot me On/Off Button, Wps Connecting Button Aur, Wify, Conecting, Charjing Dekhne aur Karne Ka Swich Hota hai,
Yah Hotspot Lagbhag 20 se 40 miter Tak Connect Karta hai,

Hotspot Kya Hai ?

Hotspot ek ek fuction hota hai, Jiski Madad se internet ko aur logo ke santh share kar sakte hai,
Yah Option Aajkal Sabhi Android Mobile me dekha ja sakta hai,
Hotspot Kharidne Par Usme User id aur Password Andar Likha hota hai,
Uska baad ham Jiofi Ki madad se Apne Mobile Laptop Me Aasani se Conect Ho Sakte hai, 3g Me Bhi 4g Ka aanand Le sakte hai,
Aap Apne Computer Wifi Dongal Kharidkar Hotspot ka aanand le Sakte hai,
Dosto Jiofi Ka Jo User Name Hota hai, Wah Bahut Hi Jatil Hota hai, Koi bhi Aasani Se Jan Sakta hai Yah JioFi Hai,
Aur iska Paaword Bhi Bahut Jatil Hota jise Aasani se yaad Nahi kiya ja sakta,
Lekin aapko aaj is Password ko Kaise Change karte hai yah Batane wala hun,
Aur santh me agar Hotspot ko Kahi Dur Rakhe hai to uska Baitry kitna % bancha hai Yah Bhi jan Sakte is Trick se,
To aaiye Suru Karte Hai,
Yah Hotspot Wairless Hota hai
Aapko yah Niche ka Link Open karna hoga uske bad bahut option aa jayenge,
http://jiofi.local.html/
Aapko Device Detail Me Jana Hai,
MSISDN ke samne jo Likha hota hai wah Mobile Number Hota hai,
Battery Level ke Samne Jo % Hota hai Wah Hotspot ka Charge Kitna hai Yah Bata Raha hai,
Aur Uske Niche, Battery Status ke Samne Kuchh Likha Hoga,
Jaise Discharging iska matlab abhi Charging Nahi ho raha hai,
Aur Charging Karenge to, Yahi Connecting Batayega, Jio Ka,
Ab Aapko  Upar Login Dikhai de raha hoga usme Click karna hoga,
Aur User Me administrator aur Password me administrator Likha hai aur Submit Karna hai,
Uske Bad Settings Me Jana hai,
Wi-Fi me jana hai,
SSID se samne hotspot ka name likha hoga use apne pasand se likhna hai,
Security Key ke samne Password Likha hoga use apne pasand se likhna hai, Password KO Yaad Rakhe,
Aur Koi Bhi Connect Ho Jaye waisa Password Na Dale,
Aur Apply Karen,
Dosto aaj ke liye bas itna hi Dhanyawad,
NSDL and UTI PAN CARD Cheak Status only 30 second, पैन कार्ड स्टेटस चेक करें आसानी से इस तरह से,
Cheak my pan card status pan bana hai ya nahi Cheak karen
Hello Dosto aaj aap janege ki Jo PAN Card aapne Banwane ke liye diya tha wah bana hai ya nahi,
Aapse Nivedan hai ki aap achchhe se is lekh ko padte rahe aap jarur cheak kar payenge,
Jaldi-Jaldi me aap Nahi Cheak Kar Payenge,
PAN Card Bana Hai Ya Nahi ise cheak karna bahut hi aasan hai,
Bas aapko Jaisa Bataya jar aha hai waisa karte jaiye,
Aap Pan Card Ko Cheak kar payenge,
To aaiye start karte hai,
Jab Aapne PAN Card Banwane Ke liye Diya tha to aapko ak Rasid Mili Hogi,
Agar Aapne UTI se PAN banwane ke liye diya hai to is tarah se Cheak kar sakte hai,

UTI PAN CARD CHEAK STATUS

NSDL se Banwaya hai to Niche Jaye Bataya Gaya hai,
Rasid Me U- ke bad Kuchh ank likhe Honge, Jaise U-601314482
Is Tarah se, ab aapko Niche ki is link Ko Open Karna hoga,
Aap is Link me Click karenge to ek new Tab Open Hoga,
Is Tarah se dikh raha hoga,http://www.trackpan.utiitsl.com/PANONLINE/trackApp
Application Coupon number ke samne U- Ke bad apna UTI Number Dalna hai,
Agar aapka pahle se PAN card ban chuka hai use cheak karna chahte hai to,
PAN number (10 chars)  ke Samne apna 10 Anko ka PAN Card Dalna hai,
Agar PAN Card Number Nahi hai to us Box ko chhod de,
Uske bad Kale rang ke Box me Jo 6 anko ka Code Hoga use,
Samne wale Box me likhe aur,
Submit Me Click Kare,
Uske bad aapko Ans. Dikhai dega,
Agar aapka PAN Card Ban Gaya Hoga To,
Application Type, Kon sa hai Yah Dikhai dega,
Jis Vyakti Ka PAN Card hai uska name Dikhai dega,
Status Me, PAN CARD Number [ ] breket me dikhai dega,
Region me Kon Sa Region Hai wah bhi dikhai dega,
Cheak my pan card status pan bana hai ya nahi Cheak karen

NSDL Se Cheak Karne ke liye Yah Kare,

Is Niche ki Link ko open kare,
https://tin.tin.nsdl.com/pantan/StatusTrack.html
Application Type ke samne me PAN ko select karna hai,
ACKNOWLEDGEMENT NUMBER Dalna hai N- ke samne me,
Yah Number 15 anko ka hoga,
Uske bad Niche me Box me Jo Code Dikhega use,
Enter the code shown* ke samne me likhna hai aur
Submit Karna hai,
Aapko Puri Jankari Dikhai Degi,
Agar aapne Cheak kar liya hai to please apne dosto ko Jarur sent Karen,